eSIM Technology Kya Hai or Kaise Kaam Karta Hai Hindi

0
60
eSIM Kya Hai (What is eSIM in Hindi)
eSIM Kya Hai (What is eSIM in Hindi)

हेलो दोस्तों आप सभी का हमारे एक और नए ब्लॉग में स्वागत है आज हम जानेगे esim क्या है What is esim in Hindi और यह कैसे काम करता है दोस्तों आजकल eSim का काफी चर्चा हो रही है और यह नई टेक्नोलॉजी मार्केटिंग में आयी जिसके बारे में ज्यादातर लोगो को इसके बारे में पता नहीं है 

इसलिए आज में आपको eSIM से जुडी हर एक जानकारी देने वाला हु और वादा करता हु अगर आप यह ब्लॉग अंत तक पड़ेंगे तो इसको लेकर आपके सारे जवाब मिल जायेंगे चलिए जानते है आखिर esim kya hai

eSIM क्या हैWhat is eSIM in Hindi

esim kya hai :- दोस्तों esim की फुल फॉर्म है Embedded Sim (Subscriber Identity Module) और यह ख़ास Technology और सॉफ्टवेयर की मदद से काम करती है जिसमे एक कस्टमर अपने नाम पर 18  अलग नंबर ले पायेगा यह एक ऐसी माइक्रो चिप है जिसमे सॉफ्टवेयर की मदद से कस्टमर को एक अलग और यूनिक identity दी जाती है जिसके द्वारा ये कार्य करती है 

दोस्तों क्या आप जानते है इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल एप्पल में iPhone में दी जा चुकी है अभी  एप्पल के Iphone XS, Iphone XS Max इस टेक्नोलॉजी का फीचर दिया जा  चूका है और अभी Apple Watch Series 3 और एप्पल सीरीज 4 में इस टेक्नोलॉजी को शामिल किया गया है 

What is eSIM in Hindi

और इसकी मदद से आप तुरंत ही portability भी आसानी से कर सकते है इसके और भी काफी सारे फायदे जो आपको आगे इस आर्टिकल में बताने वाला हु दोस्तों यह सॉफ्टवेयर बेस पर काम करती है और अभी भारत में केवल Airtel और Jio ने इसकी सर्विस को चालू किया है धीरे धीरे बाकि सभी सर्विस प्रोवाइड इसकी सर्विस को जारी करेंगे

दोस्तों अभी भारत में eSIM का प्रयोग केवल स्मार्टवॉच में किया जा रहा था और अब धीरे धीरे इसका प्रयोग स्मार्टफोन में भी किया जायेगा और इसके लिए भारत टेलीकॉम कंपनी ने भी कुछ Guideline जारी की है आप जो अभी सिम का प्रयोग अपने मोबाइल फ़ोन में करते है वह Physical Sim कहलाती है और वह काफी ज्यादा बैटरी भी consume करती है और वहीं पर esim सॉफ्टवेयर पर काम करती है जो ना के बराबर बैटरी ख़तम करती है 

eSIM की आवश्यकता क्यों पड़ी

दोस्तों वैसे तो eSIM की आवश्यकता काफी कारणों की वजह से पड़ी जिसका एक बड़ा फायदा में आपको बताना चाहता हु अगर अभी आप फिजिकल सिम को पोर्ट करना चाहते है तो आपको कम से कम एक हफ्ता तो लगता ही होगा लेकिन यदि आपके पास esim होगी तो आप कुछ ही घंटो के अंदर अपने सिम को पोर्ट बहुत की आसानी से कर सकते है

और दोस्तों  इस सिम के लिए आपको जगह जगह किसी शॉप पर जाने की जरुरत नहीं  घर बैठे ऑनलाइन अपनी डिटेल जैसे (आधार कार्ड) डालेंगे तो उसी समय आपको एक नंबर दिया जायेगा जो आपके मोबाइल से कनेक्ट होगा और अगर आपका वह सिम खो भी जाये तो इसमें आप बहुत ही आसानी उस नंबर को तुरंत खुद से ब्लॉक कर सकते है और तुरंत सिम जारी कर सकते है

तो इस तरह से देखा जाये तो यह काफी अच्छी और फायदेमंद टेक्नोलॉजी है जिस से आपको सिम के खोने या टूटने का कोई भी डर नहीं है और यह काफी फ़ास्ट टेक्नोलॉजी है अभी फ़िलहाल यह पूर्ण सुचारू रूप से मार्किट में नहीं आयी है लेकिन बहुत ही जल्द आशा  है की भारत में यह टेक्नोलॉजी आएगी

eSIM कैसे काम करती है 

दोस्तों यह Digital Sim कहलाती है जो एक सॉफ्टवेयर पर काम करती है और जाहिर सी बात है अगर सॉफ्टवेयर पर काम करती है तो इसकी काम करने की क्षमता काफी अधिक और तेजी से है ये एक तरह की  चिप है जो और सिम की तरह ही काम करती है यह पहले से ही मोबाइल डिवाइस में इनस्टॉल रहती है इसको टेलीकॉम कंपनी ही एक्टिवटे करती है इसकी सबसे मजेदार बात यह है की अगर आप अपना ऑपरेटर बदलना चाहते है तो इसके लिए आपको सिम बदलने की आवश्यकता नहीं है 

eSIM Kya Hai
eSIM Kya Hai

दोस्तों यह सॉफ्टवेयर आपके मोबाइल में पहले से ही इनस्टॉल रहता है बस इसको एक्टिवटे करने की आवश्यकता होती है और एक बार अपनी डिटेल सॉफ्टवेयर में डालने के बाद आपको एक नंबर जारी किया जायेगा जिसका उपयोग आप हर जगह कर सकते है इसलिए इसको वर्चुअल सिमकार्ड भी कहते है

Benefits of eSIM in Hindi

दोस्तों क्या आप जानते है eSIM के क्या क्या फायदे है चलिए में आपको इसके कुछ बेहतरीन फायदों से अवगत करता हु जो सायद ही आपको पता होगा चलिए जानते है Benefits of eSIM क्या क्या है चलिए जानते है

  • ये फिजिकल सिम के मुकाबले काफी फ़ास्ट है
  • इसकी मदद से कनेक्टिविटी बहुत ही आसानी से और बेहतर तरीके से होती है
  • इसके लिए कोई भी sim-tray की जरुरत नहीं होती क्यूंकि यह आपके फ़ोन में पहले से हार्डवेयर पार्ट में फिट होती है
  • आपको एक जगह से दूसरी जगह खासतौर पर ट्रैवलर जो इंटरनेशनल ट्रेवल करते है उन्हें बार बार सिम बदलने की आवश्यकता नहीं होगी
  • इसमें सिम के टूटने या खोने का कोई भी डर नहीं है और आप मोबाइल खोने पर तुरंत उस सिम को बंद करके वही नंबर दुबारा से जारी कर सकते है जो की बहुत ही फायदेमंद है
  • दोस्तों जैसे की यह एक डिजिटल सिम है तो यह बहुत कम ना के बराबर बैटरी consume करती है जिस से आपके मोबाइल की बैटरी ज्यादा समय तक चल पायेगी
  • इस डिजिटल सिम की मदद से आप दो या दो से अधिक डिवाइस को एक साथ कनेक्ट कर सकते है जो की इसका सबसे बड़ा एडवांटेज है
  • दोस्तों यह और सिम यानि फिजिकल सिम की बजाये काफी ज्यादा सेफ और सिक्योर भी है जिसमे सिर्फ आप ही अपना सिम इस्तेमाल कर सकते है और दूसरा कोई आपके सिम को इस्तेमाल नहीं कर सकता

Disadvantages of eSIM in Hindi

दोस्तों जैसे किसी भी टेक्नोलॉजी के अगर कुछ फायदे है तो कुछ नुकसान भी है हालाँकि इसमें कोई ऐसा बड़ा Disadvantage नहीं है लेकिन फिर भी हम इसके बारे में बात लेते है जो आपको जानना जरुरी है

  • दोस्तों इसका सबसे बड़ा और पहला नुकसान है मान लीजिये अगर आपके फ़ोन की बैटरी बिलकुल कम है और आपको कोई महतवपूर्ण कार्य उस समय करना है तो आप उस सिम का प्रयोग दूसरे किसी डिवाइस यानि मोबाइल में नहीं कर सकते
  • जैसा की esim में आपका डाटा (Contacts, Messages) क्लाउड server में स्टोर रहता है तो इसका कुछ हद तक हैक होना संभव माना है
  • यह esim उन यूजर के लिए कुछ हद तक बेकार हो सकता है जो की नहीं चाहते की उन्हें esim के जरिये ट्रेस किया जाये जबकि फिजिकल सिमकार्ड मे आप सिम को रिमूव कर सकते है जिस से ट्रेस नहीं किया जा सकता
  • दोस्तों इस टेक्नोलॉजी को दुनियाभर में सुचारु रूप नेटवर्क ऑपरेटर द्वारा चलना एक मुश्किल भरा काम हो सकता है

Final Words on eSIM Kya Hai Hindi

दोस्तों आशा करता हु की आपको हमारा यह आर्टिकल eSIM क्या है (What is eSIM in Hindi) पसंद आया होगा और दोस्तों यह सभी नेटवर्क ऑपरेटर के लिए काफी चुनौतीपूर्ण रहने वाला है फ़िलहाल अभी इस टेक्नोलॉजी को एप्पल अपने नए मोबाइल के जरिये लाया है

और अभी यह टेक्नोलॉजी पूर्ण तरह से मार्किट में नहीं आयी है लेकिन आशा है आने वाले कुछ साल में आपको esim देखने को मिल जाएगी अगर आपको इस आर्टिकल से जुडी कोई भी सवाल हो तो कमेंट करके जरूर पूछे और इसे अपने और दोस्तों तक जरूर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसके बारे में जानकारी मिले

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here